दुनिया का इकलौता यमराज मंदिर भारत के हिमाचल प्रदेश में मौजूद है 

White Scribbled Underline

यमराज मंदिर हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले के भरमौर में स्थित है।

White Scribbled Underline

यह वह मंदिर है जहां कोई भी पूजा करने के लिए अंदर नहीं जाता है। वे मंदिर में प्रवेश करने के बजाय बाहर प्रार्थना करना पसंद करते हैं

White Scribbled Underline

पुराणो की माने तो जब किसी प्राणी की मृत्यु होती है तो यमराज के दूत उस व्यक्ति की आत्मा को पकडक़र सबसे पहले इस मंदिर में चित्रगुप्त के सामने प्रस्तुत करते हैं। 

White Scribbled Underline

चित्रगुप्त जीवात्मा को उनके कर्मो का पूरा ब्योरा देते हैं। इसके बाद चित्रगुप्त के सामने के कक्ष में आत्मा को ले जाया जाता है। इस कमरे को यमराज की कचहरी कहा जाता है। यहां पर यमराज कर्मों के अनुसार आत्मा को अपना फैसला सुनाते हैं। 

White Scribbled Underline

यह भी मान्यता है इस मंदिर में चार अदृश्य द्वार हैं। ये द्वार स्वर्ण, रजत, तांबा और लोहे के बने हैं। गरूड़ पुराण में भी यमराज के दरबार में चार दिशाओं में चार द्वार का उल्लेख किया गया है। 

White Scribbled Underline

यमराज का फैसला आने के बाद यमदूत आत्मा को इन्हीं द्वारों से उनके कर्मों के अनुसार स्वर्ग या नर्क में ले जाते हैं। 

White Scribbled Underline

यमराज के मंदिर के बारे में अधिक जानने के लिए SWIPE UP करें और पढ़ें पूरी जानकारी 

White Scribbled Underline